Mouse kya hai | माऊस कितने प्रकार के होते है।

Mouse Kya Hai, नमस्कार दोस्तो आपका मेरी website पर स्वागत है। आशा करता हूँ की आप सब ठीक है और मेरी पोस्ट आपको जरूर पसंद आ रही होगी। दोस्तो इस इंटरनेट की दुनिया में हम सभी लोग computer और लैपटाप का इस्तेमाल करते है। हम कभी कभी लैपटाप के साथ mouse का भी इस्तेमाल करते है, और computer को चलाने के लिए हमे Mouse की जरूरत होती है, क्या आपने कभी सोचा है की Mouse Kya Hai। और माऊस के कितने प्रकार होते है। और माऊस क्या काम आता है, और इस माऊस को हम हिन्दी भाषा में क्या कहते है।

दोस्तो computer के साथ बहुत सारे डिवाइस होते है जैसे मॉनिटर, स्पीकर। इन सभी के होते हुए भी हमे माऊस का इस्तेमाल करना अनिवार्य है, इसके बिना computer को चलना मुश्किल है। माऊस के बिना हम computer की स्क्रीन को कंट्रेल नहीं कर सकते।

वैसे तो हम सभी को पता ही है, की हमारे चारो और इंटरनेट और Technology का जमाना है, इस जमाने के चलते है, हमे डेलि use होने वाली चीजों में computer का इस्तेमाल जरूरी है, इससे हमारे सभी कार्य जल्दी हो जाते है और हमारे समय की भी काफी बचत हो जाती है।

अगर आपने सोचा हो तो computer को चलाने के लिए हमे सबसे ज्यादा जरूरी क्या चाहिए, तो मै आपको बता दूँ की computer को चलाने के लिए हमे सबसे ज्यादा माऊस की जरूरत होती है, बिना माऊस के हम computer की स्क्रीन को कंट्रोल नहीं कर सकते है।

दोस्तो माऊस के बहुत सारे प्रकार होते है, ये अलग अलग समय में अलग अलग कम आते है। हम सभी के लिए यह जानना बहुत ही जरूरी है की माऊस के प्रकार कोन कोनसे है और क्या क्या काम आते है। इस पोस्ट में मै आपको आज माऊस के बारे मे पूरी जानकारी विस्तार से बताऊँगा। तो आप इस पोस्ट को ध्यान से और पूरा पढे।

Read More: Passport Kya Hai

Mouse Kya Hai | What is Mouse in Hindi

माऊस computer का एक इनपुट डिवाइस है, माऊस का इस्तेमाल करके माऊस को computer के साथ जोड़ा जाता है। माऊस को कम्प्युटर स्क्रीन के साथ जोड़ कर कम्प्युटर के अंदर जो function है, उसे खोलने और बंद करने का काम करता है। जो व्यक्ति कम्प्युटर use करता है वह उसे यह सब करने का निर्देश देता है।

जो कम्प्युटर user होता है, वह माऊस को निर्देश देता है, और माऊस उस function को ओपेन करता है, और उसके अंदर आगे बढ़ता जाता है। इसी तरह आगे बढ़ते-बढ़ते कम्प्युटर user बहुत आगे तक पहुँच जाता है। और अपना सारा काम कर लेता है, सिर्फ कम्प्युटर को निर्देश दे कर।

माऊस मे आजकल बहुत सारे नए Model आने लग गए, लेकिन पहले माऊस की तरह ही अब भी माऊस में दो बटन और एक स्क्रॉल होता है। माऊस में Model तो change हो गए पर Features अभी भी सभी में समान है।

Mouse Full Form In Hindi

दोस्तो आप सभी माऊस के बारे में बहुत कुछ जानते होंगे, पर आपने कभी सोचा है, की इस माऊस की फुल फॉर्म क्या होती है, तो दोस्तो आज मै आपको माऊस की फुल्ल फॉर्म बटाऊगा हिन्दी और इंगलिश मे।

Mouse ki Full Form English mei- Manually Operated Utility For Selecting Equipment.

माऊस की हिन्दी में फुल फॉर्म – “उपकरण के चयन के लिए मैन्युअल रूप से संचालित उपयोगिता” है।

माऊस की पूर्ण परिभाषा?

माऊस कम्प्युटर के साथ जुडने वाला एक छोटा सा डिवाइस है। जिसका उपयोग कम्प्युटर को यूज करने वाला व्यक्ति कम्प्युटर से थोड़ा दूर टेबल पर रख कर करता है।

माऊस से कम्प्युटर की स्क्रीन के अंदर function को Open करने किसी टेक्स्ट को सिलेक्ट करने, उसे कट करने और सिलेक्ट किए हुए टेक्स्ट को कही दूसरी जगह पेस्ट करने के काम आता है। बिना माऊस के कम्प्युटर को ओपरेट करना मुश्किल है।

माऊस को और किन नामो से पुकारा जाता है?

माऊस को हम वैसे तो अलग अलग नाम से बुला सकते है, केई बार तो ऐसा होता है अगल अलग क्षेत्र के हिसाब से अलग अलग नाम से बुलाया जाता है, वैसे इसे आम भाषा में Pointer या सूचक कहा जाता है। सूचक का मतलब होता है, की जब हम माऊस को किसी कार्य को करने की सूचना या निर्देश देते है तो वह उसे हमारे निर्देशानुसार उसे पूरा करता है, और उस कार्य को करने में कुछ ही सेकेंड का समय लगता है।

माऊस का आविष्कार किसने किया?

1963 में Douglas Engelbart ने किया था। जिस समय इन्होने माउस का आविष्कार किया उस समय ये Xerox PARC में काम किया करते थे। जिस समय इन्होने माऊस का आविष्कार उस समय के बाद से आज तक यह इतना ज्यादा प्रसिद्ध हुआ की आप देख ही सकते है।

माऊस का सिर्फ इतना ही है की जब उसे किसी कार्य को करने का निर्देश दिया जाता है, तो वो उसी निर्देशानुशार उसे open करता है और बंद करता है।

Read More: Google Kya Hai

माऊस के बारे में?

दोस्तो अब मै आपको माऊस के बारे मे बताऊँगा, उसके function के बारे में बटाऊगा, इन बातो को जानने के बाद आपको माउस को चलाने में आपको किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं होगी।

  • जब हम माऊस का इस्तेमाल करते है, तो हमारे सामने कम्प्युटर स्क्रीन में एक cursor दिखाई देगा, आप इस cursor की सहायता से स्क्रीन पर किसी भी चीज को कही भी move कर सकते है।
  • माऊस का इस्तेमाल करके user कम्प्युटर screen पर रखे Folder, icon या किसी भी दूसरे प्रोग्राम को खोल सकता है और उसका उपयोग हो जाने पर उसे बंद भी कर सकता है।
  • माऊस से उपयोग से हम कम्प्युटर स्क्रीन पर टाइप किए हुए वर्ड और एक्सएल फ़ाइल से डाटा को कॉपी कर सकते है। और इस कॉपी किए हुए डाटा को हम किसी दूसरी जगह ले जाकर माऊस से past कर सकते है।
  • माऊस के उपस्थित cursor की सहायता से हम किसी भी फोंल्डर या Document को एक जगह से दूसरी जगह पर drop कर सकते है।
  • Cursor की सहायता से हम किसी भी folder या Document की सारी details जान सकते है, उसके लिए हमे Cursor को उस Folder के उपर लेकर जाना होगा। cursor उपर जाते ही हमे उसकी सारी जानकारी दिखाई देने लग जाएगी।
  • माऊस के अंदर उपस्थित Scroll की सहायता से आप किसी भी Document को पूरा पढ़ने के लिए उस Document को Open करके Scroll की सहायता से उपर नीचे कर सकते है।

Touchpad क्या है?

माऊस में touchpad एक इनपुट डिवाइस होता है। जैसे अगर आपने देखा हो तो लैपटाप को use करने के लिए हमें किसी माऊस की जरूरत नहीं होती, क्योकि लैपटाप में कीवर्ड के नीचे के touch लगी होती है जो माउस का ही काम करती है, इसकी टच के सहारे हम लैपटाप में किसी भी प्रोग्राम को open कर सकते है और बंद कर सकते है। इस touchpad को हम उँगलियो के सहारे से चलते है।

माऊस का भविष्य?

जैसे जैसे इंटरनेट और Technology का विकाश होता जा रहा है वैसे-वैसे ही माऊस का भी विकास हो रहा है। जैसे हम देखे तो जब शुरू शुरू में माऊस आया था तो इसमे तार हुआ करती थी, परंतु धीरे धीरे ये बिना तार से आने लग गए है, जिन्हे इंग्लिश में Wireless mouse कहा जाता है।

जैसे धीरे-धीरे Technology का आविष्कार बढ़ रहा है उसको देखते हुए लगता है की शायद माऊस का इस्तेमाल होना बंद ही हो जाए, क्योकि इस Technology की दुनिया में आजकल Voice commands की डिमांड ज्यादा बढ़ रही है। उसी के चलते माऊस का इस्तेमाल काम होने लग जाएगा।

आजकल लोगो को सारी सुविधा चाहिए वो किसी भी कार्य को करने के लिए हाथों का इस्तेमाल नहीं करना चाहते। वो चाहते है की उन्हे सारी सुविधा मिले और उन्हे हाथ भी ना लगाना पड़े, इसी को देखते हुए लगता है की माऊस का इस्तेमाल भी बंद हो जाएगा। लगता है अब वो दिन भी दूर नहीं है जब हम कहेंगे की माऊस एक पुरातन डिवाइस है।

अभी ऐसा इतनी जल्दी नहीं होगा इसमे कुछ समय लगेंगा, इस समय के बीच हम देखते है की माऊस कंपनीयां और क्या सुविधा लेकर आती है, जिससे माऊस का इस्तेमाल होता रहे।

आपने आज क्या सीखा/निष्कर्ष

दोस्तो आशा करता हूँ की आज की पोस्ट Mouse Kya Hai, और इसे कैसे इस्तेमाल करे आपको अच्छी लगी होगी। माऊस से जुड़ी सारी जानकारी आपके समझ आ गई होगी।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो आप इसे अपने दोस्तो और परिवार के लोगो के साथ शेयर जरूर करे। ताकि उन्हे भी mouse kya hai इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार से जानने को मिले।

आपको आज की इस पोस्ट में कोई भी कमी नजर आती है तो आप मुझे बताए मै आपकी इस कमी को पूरा करने की कोशिश करुगा।

आप लोग को mouse kya hai  पोस्ट को Social Media पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करे, ताकि सभी को माऊस के बारे मे सारी जानकारी जानने को मिले, ताकि उन्हे भविष्य में किसी भी कमी का सामना का करना पड़े। जय हिन्द जय भारत

Read More: Output Device Kya Hai

Paise Kaise Kamaye

Hello दोस्तों मेरा नाम Pawan Kumar है मैं इस ब्लॉग का Writer और Founder हूँ और इस वेबसाइट के माध्यम से पैसे कमाने के बारे में जानकारी Share करता हूँ। ��

Leave a Comment