Ganesh Chaturthi 2022

Image Credit Google

Image Credit Google

स्नान कर रहीं माता पार्वती की सुरक्षा में लगे गणेश जी (Lord Ganesh) ने शिवगणों से ऐसा युद्ध किया कि उन्हें मैदान छोड़ कर भागना पड़ा.

Image Credit Google

शिवा पुत्र गणेश और शिव गणों के बीच युद्ध का समाचार जैसे ही देवर्षि नारद के माध्यम से ब्रह्मा जी, विष्णु आदि देवताओं को प्राप्त हुआ

Image Credit Google

शिव जी के पास पहुंच कर उनकी स्तुति कर पूछने लगे, 'प्रभ, ये कैसी लीला हो रही है. यदि हमारे करने लायक कोई कार्य हो तो आप आदेश करें.'

Image Credit Google

शिव जी (Lord Shiva) ने कहा, 'क्या कहूं, मेरे घर के द्वार पर छड़ी लिए एक बालक मार्ग रोक कर खड़ा है

Image Credit Google

विष्णु जी को उधर जाते हुए देख कुछ शिवगण उनके पास पहुंचे और बोले, 'भगवन, भगवती उमा के अत्यंत ताकतवर पुत्र ने हमारी यह दुर्दशा की है

Image Credit Google

इस पर विष्णु जी ने ब्राह्मण का वेश रखा और पार्वती नंदन के निकट पहुंचे तो उन्हें देखते ही गणेश जी (Lord Ganesh) ने अपनी छड़ी उठा ली

Image Credit Google

इस पर विष्णु जी (Lord Vishnu) बोले, 'मैं तो शांत ब्राह्मण हूं और मेरे पास कोई अस्त्र शस्त्र भी नहीं है.

Image Credit Google